Amazon.jp पर बढ़ने के लिए ग्रोसरी एडवरटाइज़र इन 3 रणनीतियों का उपयोग कर रहे हैं

इन्होंने लिखा: कज़ूया मुरायामा, सीनियर मीडिया और एनालिटिक्स मैनेजर, और एश्टन ब्राउन, तकनीकी लेखक

Amazon.jp (जापान) पर ग्रोसरी कैटेगरी में 400 से ज़्यादा ब्रैंड की इस 2020 स्टडी में, हम सबसे अच्छे और खराब परफ़ॉर्म करने वाले एडवरटाइज़र की ऐड रणनीतियों की तुलना करते हैं. फिर हम इस तुलना का इस्तेमाल एक्शन करने लायक इनसाइट पाने के लिए करते हैं, जिनका इस्तेमाल एडवरटाइज़र ‘ब्रैंड में नया’ की साल-दर-साल हई ग्रोथ में सुधार करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं.

स्टोरी हाइलाइट:

इस स्टडी में हमने जनवरी से दिसंबर 2020 के बीच, Amazon.jp (जापान) पर ग्रोसरी कैटेगरी में 400 से ज़्यादा ब्रैंड का विश्लेषण किया. अपना विश्लेषण करने के लिए, हमने ग्रोसरी ब्रैंड को चार क्लस्टर में बांट दिया, जिसमें पहले क्लस्टर को सबसे कामयाब और चौथे क्लस्टर को सबसे कम कामयाब माना गया. इनके बांटे जाने का आधार साल-दर-साल ‘ब्रैंड में नया’ वाले कस्टमर (NTBGR) का ग्रोथ रेट था.

हमारे विश्लेषण से पता चलता है कि टॉप परफ़ॉर्मिंग ग्रोसरी एडवरटाइज़र (पहला क्लस्टर) के लिए खराब परफ़ॉर्म करने वाले एडवरटाइज़र की तुलना में NTBGR 1.3x ज़्यादा था.

टॉप परफ़ॉर्मर

1.3x

‘साल दर साल ब्रैंड में नया’ का ग्रोथ रेट ज़्यादा रहा

एडवरटाइज़र को एक्शन लायक इनसाइट देने करने के लिए, हमने 40+ ऐड और मीडिया एट्रिब्यूट का विश्लेषण करने के लिए मशीन लर्निंग का इस्तेमाल किया जो NTBGR में ज़्यादा या कम योगदान देते हैं. हमने तब पता लगाया कि किन एट्रिब्यूट का पॉज़िटिव इम्पेक्ट सबसे ज़्यादा था.

ग्रोसरी कैटेगरी में सबसे अच्छा परफ़ॉर्म करने वाले एडवरटाइज़र (पहला क्लस्टर) और ग्रोसरी कैटेगरी में खराब परफ़ॉर्म करने वाले एडवरटाइज़र (चौथा क्लस्टर) ने हर मुख्य एट्रिब्यूट या रणनीति को किस हद तक अपनाया है, इस बारे में यह लेख हर एट्रिब्यूट या रणनीति से जुड़ी इनसाइट/बेहतरीन तरीकों को बताता है.

हमने इस स्टडी को कैसे किया, इस बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए, इस लेख के आखिर मेंमेथडोलॉजी सेक्शन देखें.

टॉप परफ़ॉर्मर Amazon DSP और स्पॉन्सर्ड ऐड, दोनों का उपयोग करते हैं

जब NTBGR की बात आती है, तो प्रोडक्ट और ब्रैंड की खोज मदद कर सकती है. ब्रैंड की खोज को बढ़ाने का एक तरीका Amazon DSP और स्पॉन्सर्ड ऐड को कैम्पेन में शामिल करना है. हमारे विश्लेषण से पता चलता है कि टॉप परफ़ॉर्मर नेAmazon DSP औरस्पॉन्सर्ड ऐड दोनों का उपयोग खराब परफ़ॉर्म करने वालों से ज़्यादा किया.

वास्तव में, amazon.jp टॉप परफ़ॉर्मिंग ग्रोसरी कैम्पेन में से 71% ने Amazon DSP और स्पॉन्सर्ड ऐड दोनों का इस्तेमाल किया. हालांकि, खराब परफ़ॉर्म करने वाले कैम्पेन में से 52% ने ही ऐसा किया.

Amazon DSP और स्पॉन्सर्ड ऐड, दोनों का उपयोग करने वाले कैम्पेन का प्रतिशत

71%

टॉप परफ़ॉर्मर

52%

लोअर-परफ़ॉर्मर

Amazon DSP और स्पॉन्सर्ड ऐड का उपयोग करते समय ध्यान देने योग्य बातें

  • सबसे पहले, एडवरटाइज़र कम से कम 71% कैम्पेन में Amazon DSP और स्पॉन्सर्ड ऐड, दोनों का उपयोग करने पर विचार कर सकते हैं
  • दूसरा, एडवरटाइज़र को हमेशा चालू रहने वाले DSP को 11 हफ़्ते से ज़्यादा रखने पर विचार करना चाहिए, और कैम्पेन को 110 दिनों से ज़्यादा लाइव रखना चाहिए

टॉप परफ़ॉर्मर के पास हर यूनिक ASIN या सीरियल नंबर के लिए 4.6x ज़्यादा कस्टमर रिव्यू होते हैं

हमने पाया है कि कस्टमर रिव्यू के असर को अक्सर एडवरटाइज़र अनदेखा कर देते हैं. Amazon.jp पर ग्रोसरी कैटेगरी में एडवरटाइज़र के हमारे विश्लेषण में हमने पाया कि सबसे अच्छा परफ़ॉर्म करने वाले एडवरटाइज़र के पास हर यूनिक ASIN या सीरियल नंबर के लिए औसत रूप से 23 रिव्यू थे, वहीं खराब परफ़ॉर्म करने वाले एडवरटाइज़र के पास यही आंकड़ा 5 रिव्यू का था.

हर ASIN या सीरियल नंबर पर कस्टमर रिव्यू की संख्या

23

टॉप परफ़ॉर्मर

5

लोअर-परफ़ॉर्मर

कस्टमर रिव्यू को बेहतर बनाने या बढ़ाने के लिए ध्यान देने लायक बातें

एक विचार यह है कि एडवरटाइज़र, कस्टमर का विश्वास बढ़ाने के लिए कस्टमर रिव्यू को बढ़ाने और सुधारने में सक्षम हो सकते हैं, हम सुझाव देते हैं कि एडवरटाइज़र हर यूनिक ASIN या सीरियल नंबर के लिए कम से कम 23 कस्टमर रिव्यू पाने की कोशिश करे. कस्टमर रिव्यू को बढ़ाने और सुधारने के बारे में ज़्यादा जानकारी के लिए, ग्रोसरी एडवरटाइज़र इन बातों पर विचार कर सकते हैं:

    • अगर आप एक वेंडर हैं: Amazon Vine प्रोग्राम का उपयोग करें. Amazon Vine अपने साथी कस्टमर को सूचित खरीद निर्णय लेने में मदद करने के लिए नए और इससे पहले रिलीज़ किए गए आइटम के बारे में राय पोस्ट करने के लिए Amazon पर सबसे भरोसेमंद रिव्यूअर आमंत्रित करता है.
    • अगर आप एक सेलर हैं: Amazon Brand Registry का इस्तेमाल करें. Amazon Brand Registry में एनरॉल करने से कस्टमर के लिए बेहतर अनुभव पैदा करते हुए, आपके ब्रैंड को बनाने और सुरक्षा में मदद करने के लिए डिज़ाइन किए गए टूल के एक सुइट को अनलॉक किया जाता है.

टॉप परफ़ॉर्मर की कीवर्ड या ASIN पर नेगेटिव टार्गेटिंग का उपयोग करने की संभावना 1.8x ज़्यादा होती है

हमारे विश्लेषण से पता चलता है कि संबंधित शॉपिंग नतीजों की वजह से ज़्यादा एंगेजमेंट मिल सकता है, जिसका मतलब है कि जो एडवरटाइज़र अपने ऐड को नेगेटिव कीवर्ड के ज़रिए सुधरती हैं, उन्हें भी ज़्यादा NTBGR मिल सकता है. इसकी तुलना में, टॉप परफ़ॉर्मिंग ग्रोसरी एडवरटाइज़र ने 67% कैम्पेन में कीवर्ड या ASIN में नेगेटिव टार्गेटिंग का उपयोग किया, जबकि खराब परफ़ॉर्म करने वालों ने सिर्फ़ 37% कैम्पेन में कीवर्ड या ASIN में नेगेटिव टार्गेटिंग का उपयोग किया.

नेगेटिव कीवर्ड या ASIN रणनीति का उपयोग करने वाले कैम्पेन का प्रतिशत

67%

टॉप परफ़ॉर्मर

37%

लोअर-परफ़ॉर्मर

कीवर्ड का उपयोग करते समय ध्यान देने योग्य बातें

  • नेगेटिव कीवर्ड टार्गेटिंग के साथ इस्तेमाल किए जाने वाले टर्म को खोजने के लिए अपने मौजूदा कैम्पेन की रिपोर्ट देखें. कम क्लिक-थ्रू रेट (CTR), ज़्यादा खर्च और कम कन्वर्शन रेट, ऐसी टार्गेटिंग के अच्छे संकेतक हैं जो खराब परफ़ॉर्म कर रही है और कीवर्ड के बिना बनाई जा सकती है.
  • समय-समय पर अपने हटाए गए कीवर्ड की परफ़ॉर्मेंस देखें, इससे आप अपने कैम्पेन को उन कीवर्ड से ऑप्टिमाइज़ कर पाएंगे जो अच्छा परफ़ॉर्म करते हैं.
  • अपवादों के लिए देखें. उदाहरण के लिए, लॉन्च किए गए नए प्रोडक्ट के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए जेनेरिक कीवर्ड (जैसे कि ड्रिंक, चाय, पानी) खराब परफ़ॉर्म कर सकते हैं, लेकिन इन्हें हटाए गए कीवर्ड के रूप में उपयोग नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि ये ग्रोसरी कैटेगरी के लिए सही ऑडियंस हैं.

निष्कर्ष

जैसा कि हमारे विश्लेषण में देखा गया है, हमारे सुपरवाइज़्ड मशीन लर्निंग मॉडल के साथ हमने तीन प्रमुख रणनीतियों की पहचान की है जो एडवरटाइज़र साल-दर-साल अपने ‘ब्रैंड में नया’ कस्टमर की ग्रोथ रेट बढ़ाने के लिए उपयोग कर सकते हैं: (1) कैम्पेन में Amazon DSP और स्पॉन्सर्ड ऐड दोनों का इस्तेमाल करें; (2) हर यूनिक ASIN या सीरियल नंबर के लिए कम से कम 23 कस्टमर रिव्यू बनाए रखें; (3) जब संभव हो, तो नेगेटिव कीवर्ड या ASIN रणनीति का उपयोग करने पर विचार करें.

मेथडोलॉजी

हमने सबसे पहले एक सुपरवाइज़्ड मॉडल का उपयोग उन एट्रीब्यूट की सूची की पहचान करने के लिए किया जो 40+ मीडिया और रिटेल एट्रीब्यूट के बीच कम्पोज़िट स्कोर को बेहतर बनाने में मदद करते हैं. खास तौर से, हमने कामयाबी मेट्रिक का एक सुइट बनाने के लिए पांच चरणों की प्रक्रिया का पालन किया, जिसमें शामिल हैं: ‘ब्रैंड में नया’ कस्टमर का साल दर साल ग्रोथ रेट (NTBGR), और फिर मशीन लर्निंग एल्गोरिदम के साथ कामयाबी मैट्रिक को बढ़ाने में मदद करने के लिए सबसे अच्छे ऐड और रिटेल रणनीतियों की पहचान की.

  • ब्रैंड चुनें: जनवरी 2020 और सितंबर 2020 के बीच ग्रोसरी कैटेगरी के 400 ब्रैंड.
  • सफल मेट्रिक बनाएं: ‘ब्रैंड में नया’ कस्टमर की साल-दर-साल ग्रोथ के आधार पर हिसाब लगाया गया.
  • असरदार ऐड या रिटेल कार्रवाइयों को पहचानें: कंपोज़िट स्कोर को बढ़ाने में मदद करने के लिए टॉप एक्शन की पहचान की गई (ऐसे एक्शन जो ‘ब्रैंड में नया’ कस्टमर की साल-दर-साल ज़्यादा ग्रोथ रेट देते हैं). एक्शन में कस्टमर रिव्यू, ऐड प्रोडक्ट (Sponsored Products, Sponsored Brands Fire TV वगैरह), ऐड रणनीतियां (नेगेटिव कीवर्ड, हमेशा चालू मोड, ऑडियंस सेगमेंट वगैरह), और बहुत कुछ शामिल है.
  • ग्रुप ब्रैंड: कंपोजिट स्कोर (NTBGR) के आधार पर ग्रुप में बांटे गए ब्रैंड को चार क्लस्टर में सबसे अच्छे से सबसे खराब परफ़ॉर्म करने वाले के तौर रैंक किया गया.
  • ब्रैंड ग्रुप की तुलना करें: NTBGR की साल-दर-साल ग्रोथ बढ़ाने के लिए, खराब परफ़ॉर्म करने वाले ब्रैंड (चौथा क्लस्टर) जिन रणनीतियों का इस्तेमाल करते हैं या नहीं करते हैं, इसके मुकाबले सबसे अच्छा परफ़ॉर्म करने वाले ब्रैंड (पहला क्लस्टर) किन रणनीतियों का इस्तेमाल करते हैं.