डिस्प्ले ऐड चैलेंजर ब्रैंड को लंबे-समय तक बिक्री बढ़ाने में मदद कर सकते हैं

द्वारा: डेनिएला यू, सीनियर एनालिटिक्स और मीडिया मैनेजर

Amazon Store में मौजूद चैलेंजर ब्रैंड बिक्री में सुधार करने के लिए डिस्प्ले ऐड का इस्तेमाल कर सकते हैं.

स्टोरी के हाइलाइट:

चैलेंजर ब्रैंड—का मतलब यहां छोटे से लेकर मध्यम-साइज़ के बिज़नेस से है जो Amazon Store पर सामान बेचते हैं —अक्सर डिस्प्ले और स्पॉन्सर्ड ऐड से होने वाले असर के लिए उत्सुक रहते हैं. सही इनसाइट नहीं मिलने से, हो सकता है चैलेंजर ब्रैंड सिर्फ़ स्पॉन्सर्ड ऐड पर ध्यान दें और डिस्प्ले ऐड या डिस्प्ले ऐड और स्पॉन्सर्ड ऐड को मिलाकर होने वाले ऐड-एट्रिब्यूटेड बिक्री को बढ़ाने का मौका उनसे छूट जाए.

हमने चैलेंजर ब्रैंड और लीडिंग ब्रैंड के बीच तुलना कर सकने वाली स्टडी की ताकि यह पता लगाया जा सके कि कौन बेहतर परफ़ॉर्म कर रहा है डिस्प्ले या स्पॉन्सर्ड ऐड. हमने देखा कि डिस्प्ले और स्पॉन्सर्ड ऐड को मिलाने से चैलेंजर ब्रैंड को फ़ायदा हो सकता है, क्योंकि बिक्री पर हर एक के अपने-अपने फ़ायदे के अलावा साथ मिलाने से होने वाला “बोनस” का भी असर होता है. हमने विश्लेषण में यह भी देखा कि जाने माने ब्रैंड की तुलना में चैलेंजर ब्रैंड के लिए दोनों ऐड के मिलाने से होने वाला असर ज़्यादा सामान्य है.

हमारी स्टडी में पांच चैलेंजर ब्रैंड और नौ जाने माने ब्रैंड शामिल हैं. ये 14 ब्रैंड अलग-अलग वर्टिकल की छह कैटेगरी को कवर करते हैं: पोषण और स्वास्थ्य, बच्चे की केयर, कॉफ़ी, पीने की ठंडी चीज़ें, मास स्किन केयर और मास कॉस्मेटिक्स. हर ब्रैंड के लिए, 77 हफ़्ते, जनवरी 2018 से लेकर जुलाई 2019 तक, हमने कुल 1,078 सैंपल में बिक्री के फ़ायदे की तुलना में ऐड पर हुए खर्च देखे. साथ ही, हर ब्रैंड के लिए, हमने एडवरटाइज़िंग से लंबे-समय तक बिक्री में होने वाले फ़ायदे की गणना करने के लिए डाइनैमिक मॉडल का इस्तेमाल किया, जिसमें स्पॉन्सर्ड ऐड और डिस्प्ले से बिक्री पर होने वाला असर और मीडिया के साथ काम करने के बारे में बताने के लिए स्पॉन्सर्ड ऐड और डिस्प्ले इंटरैक्शन शामिल हैं.

और जानकारी के लिए, इस आर्टिकल के आखिर में मेथडोलॉजी सेक्शन देखें.

1. जाने माने ब्रैंड की तुलना में चैलेंजर ब्रैंड के लिए डिस्प्ले से लंबे-समय तक बिक्री में होने वाला असर ज़्यादा है

स्टडी से पता चलता है कि लीडिंग ब्रैंड डिस्प्ले पर खर्च बढ़ाने वाले सप्ताह में सबसे ज़्यादा बिक्री में फ़ायदा देखते हैं, जबकि चैलेंजर ब्रैंड डिस्प्ले पर खर्च बढ़ाने के बाद दूसरे और तीसरे हफ़्ते में सबसे ज़्यादा फ़ायदा देखते हैं. लेकिन, कुल मिलाकर, चैलेंजर ब्रैंड को इस समय के दौरान लीडिंग ब्रैंड से ज़्यादा फ़ायदा हुआ.

नीचे दिए गए विज़ुअल में समय के साथ बिक्री पर होने वाले एग्रीगेट किए गए असर को दिखाया है.

लीडिंग और चैलेंजर ब्रैंड के बीच समय के साथ डिस्प्ले से बिक्री पर हुआ असर

लीडिंग ब्रैंड डिस्प्ले पर खर्च बढ़ाने वाले सप्ताह में सबसे ज़्यादा बिक्री में फ़ायदा देखते हैं (1 हफ़्ता), जबकि चैलेंजर ब्रैंड 2 और 3 हफ़्ते में सबसे ज़्यादा फ़ायदा देखते हैं. कुल मिलाकर, चैलेंजर ब्रैंड को 7 हफ़्ते के दौरान लीडिंग ब्रैंड पर ज़्यादा फ़ायदा मिला.

Y = बिक्री पर असर
X = हफ़्ता (1 हफ़्ते = जिस हफ़्ते इम्प्रेशन बढ़े हैं)

नीले रंग की सर्कल की: लीडिंग ब्रैंड

लीडिंग ब्रैंड

हल्के नीले रंग की सर्कल की: चैलेंजर ब्रैंड

चैलेंजर ब्रैंड

2. डिस्प्ले और स्पॉन्सर्ड ऐड के मिलने से चैलेंजर ब्रैंड को अच्छे नतीजे मिल सकते हैं

विश्लेषण से पता चलता है कि डिस्प्ले और स्पॉन्सर्ड ऐड या डिस्प्ले और रिटेल ("रिटेल" में मर्च प्लेसमेंट, प्रोडक्ट का सुझाव और अन्य इम्प्रेशन शामिल हैं जो Amazon पर शॉपिंग करते समय यूज़र द्वारा देखे जा सकते हैं) को मिलाने से 14 में (डिस्प्ले और स्पॉन्सर्ड ऐड के लिए 3 और डिस्प्ले के लिए 3) से छह ब्रैंड को ऐड-एट्रिब्यूटेड बिक्री में सबसे ज़्यादा फ़ायदा हुआ है. इन छह ब्रैंड में से, चार चैलेंजर ब्रांड हैं और दो लीडिंग ब्रैंड हैं. यह डेटा बताता है कि लीडिंग ब्रैंड के 9 में से 2 (22%) और चैलेंजर ब्रैंड के 5 में से 4 (80%), डिस्प्ले और स्पॉन्सर्ड ऐड से होने वाला असर दिखाता है.

नीचे दिए गए विज़ुअल में हर छह ब्रैंड पर हुए असर को दिखाया है. हर ब्रैंड के लिए, हमने ब्रैंड के द्वारा जनरेट की गई उन हफ्तों की ऐड-एट्रिब्यूटेड बिक्री की गणना की जब दोनों इम्प्रेशन टाइप उनके औसत इम्प्रेशन लेवल से ज़्यादा थे बनाम जब दोनों इम्प्रेशन टाइप उनके औसत लेवल (बेसलाइन बिक्री) से कम थे. हमने इसकी तुलना उन हफ़्तों से की जब ब्रैंड के दोनों के बजाए सिर्फ़ एक के औसत इम्प्रेशन से ज़्यादा थे.

हमारे विश्लेषण से पता चलता है कि स्पॉन्सर्ड ऐड और डिस्प्ले को साथ में इस्तेमाल करने से ऐड-एट्रिब्यूटेड बिक्री पर 87-परसेंट असर हुआ है. उन हफ़्तों में जब ब्रैंड 1 का सिर्फ़ औसत डिस्प्ले इम्प्रेशन ज़्यादा था, तब ऐड-एट्रिब्यूटेड बिक्री बेसलाइन से 55% ज़्यादा बढ़ी. उन हफ़्तों में जब ब्रैंड 1 का सिर्फ़ औसत स्पॉन्सर्ड ऐड इम्प्रेशन ज़्यादा था, तब ऐड-एट्रिब्यूटेड बिक्री 47% बढ़ी. हालांकि, उन हफ़्तों में जब दोनों स्पॉन्सर्ड ऐड और डिस्प्ले में ब्रैंड 1 का औसत इम्प्रेशन ज़्यादा था, ऐड-एट्रिब्यूटेड बिक्री 102% (55% + 47%) नहीं, बल्कि 189% बढ़ी. इस तरह, दोनों को मिलाकर इस्तेमाल करने से ऐड-एट्रिब्यूटेड बिक्री पर 87-परसेंट (189 ppt – 102 ppt) फ़ायदे हुआ जो कि अलग-अलग स्पॉन्सर्ड ऐड और डिस्प्ले से बिक्री में हुए फ़ायदे से ज़्यादा है. औसत तौर पर, लीडिंग ब्रैंड की तुलना में चैलेंज ब्रैंड में स्पॉन्सर्ड ऐड और डिस्प्ले को साथ में इस्तेमाल करने से ज़्यादा फ़ायदा होता है.

ब्रैंड और मीडिया टाइप में स्पॉन्सर्ड ऐड और डिस्प्ले को साथ में इस्तेमाल करने से हुए फ़ायदे को दिखाना

ब्रैंड 1: चैलेंजर ब्रैंड, डिस्प्ले और सर्च

ब्रैंड 1: चैलेंजर ब्रैंड, डिस्प्ले और सर्च: 87%

ब्रैंड 2: चैलेंजर ब्रैंड, डिस्प्ले और रिटेल

ब्रैंड 2: चैलेंजर ब्रैंड, डिस्प्ले और रिटेल: 75%

ब्रैंड 3: चैलेंजर ब्रैंड, डिस्प्ले और सर्च

ब्रैंड 3: चैलेंजर ब्रैंड, डिस्प्ले और सर्च: 14%

ब्रैंड 4: चैलेंजर ब्रैंड, डिस्प्ले और रिटेल

ब्रैंड 4: चैलेंजर ब्रैंड, डिस्प्ले और रिटेल: 4%

ब्रैंड 5: लीडिंग ब्रैंड, सर्च और डिस्प्ले

ब्रैंड 5: लीडिंग ब्रैंड, सर्च और डिस्प्ले: 32%

ब्रैंड 6: लीडिंग ब्रैंड, सर्च और रिटेल

ब्रैंड 6: लीडिंग ब्रैंड, सर्च और रिटेल: 4%

नतीजे और सुझाव

Amazon डिस्प्ले ऐड से बिक्री पर लंबे-समय तक असर होता है जो डिस्प्ले पर ज़्यादा खर्च करने पर पहले एक या दो हफ़्ते से ज़्यादा होता है. स्पॉन्सर्ड ऐड की तुलना में डिस्प्ले ऐड के लिए बिक्री पर लंबे-समय तक असर हो सकता है, खासकर चैलेंजर ब्रैंड के लिए.

चैलेंजर ब्रैंड के लिए, डिस्प्ले से बिक्री पर बाद में असर होता और लंबे समय तक रहता है, स्पॉन्सर्ड ऐड की तरह लंबे-समय तक बिक्री पर असर होता है. इसलिए, आखिर में हमारा सुझाव है कि चैलेंजर ब्रैंड डिस्प्ले और स्पॉन्सर्ड ऐड का अलग-अलग इस्तेमाल करने के बजाए साथ में इस्तेमाल करें जिससे दोनों को इस्तेमाल करने से मिलने वाले “बोनस” से बिक्री में बढ़ोतरी करने में मदद मिले.

मेथडोलॉजी

सैंपलिंग

रिसर्च के नतीजे के सामान्यीकरण और कुशलता को बैलेंस करने के लिए, हमने पहले तीन वर्टिकल का सैंपल बनाया. सख्त मानदंडों का इस्तेमाल करते हुए हर तीन वर्टिकल में से दो कैटेगरी का सैंपल लिया: हमने ऐसे वर्टिकल और कैटेगरी के सैंपल लिए जो सीज़नल, बिक्री की औसत कीमत, रिटेल की तैयारी और बिज़नेस के साइज़ के आधार पर अलग थे. हम उम्मीद करते हैं कि जो वर्टिकल और कैटेगरी चुनी गई हैं वे बिज़नेस की अलग-अलग प्रकृति को दिखाए, जो अन्य कैटेगरी को ज़्यादा आत्मविश्वास से ढूंढने में समान्य बनाए.

डाइनैमिक मॉडल मेथडोलॉजी

हमने Vector Autoregressive (VAR) मॉडल का इस्तेमाल करके बिक्री पर एडवरटाइज़िंग से हुए असर का अनुमान लगाया है. यह एक ऐसा तरीका है जिसका इस्तेमाल डाइनैमिक इफ़ेक्ट के व्यापक और कुशलता का अनुमान लगाने के लिए अर्थशास्त्र, वित्त और मार्केटिंग में होता है.