Baggallini का इनवेस्टमेंट पर फ़ायदा 5x तक रहा

''हमने पहले ही दूसरे चैनलों पर पेमेंट वाले सर्च अडजस्ट किए हैं, ताकि स्पॉन्सर्ड ऐड को सपोर्ट किया जा सके. जब डिजिटल मार्केटिंग के साथ आगे बढ़ना आसान होता है, तो यह कम मेहनत और बिना रुकावटों के साथ ज़्यादा बेहतर नतीजे वाले प्रोग्राम बनाने में मदद करता है.'' -एलन क्रांट्ज़ल, ब्रैंड प्रेसिडेंट, Baggallini

फ़रवरी 2015 में, Baggallini ने Amazon.com पर अपने प्रोडक्ट की बिक्री और विज़िबिलिटी बढ़ाने के लिए स्पॉन्सर्ड ऐड प्रोग्राम शुरू किया था. अब तक उन्होंने कई सारे टार्गेटिंग तरीकों को आज़माया है और खास ऑडियंस तक पहुंच बनाई है. इनमें कीवर्ड, प्रोडक्ट और दिलचस्पी पर आधारित टार्गेटिंग भी शामिल हैं.

Baggallini बैग और सुझाव

Baggallini ने पाया कि सही कीवर्ड और टार्गेट प्रोडक्ट की पहचान करना बेहद आसान है. आम तौर पर ऐड उसी दिन लाइव होते हैं और एनालिटिक्स उन्हें यह तुरंत ही तय करने की छूट भी देते हैं कि ऐड अच्छा परफ़ॉर्म कर रहे हैं या नहीं. कैम्पेन के दौरान कीवर्ड को ज़रूरत के मुताबिक बदला जा सकता है. साथ ही, अगर कोई ऐड अच्छा कर रहा है, तो बजट में भी बदलाव किए जा सकते हैं.

Baggallini अपने प्रोग्राम को बढ़ाने और ऑप्टिमाइज़ करने के लिए, नतीजों के इस्तेमाल को लेकर बेहद सतर्क है. उन्होंने पाया कि Amazon Ads परफ़ॉर्मेंस रिपोर्टिंग से डेटा निकालना और इनसाइट पाना आसान है. साथ ही, नए क्लोनिंग कैम्पेन की मदद से कुछ ही क्लिक में पुराने कैम्पेन के सफल ऐड चलाए जा सकते हैं. Baggallini खास आइटम, कलेक्शन और अलग-अलग तरह की ऑडियंस को टार्गेट करके, Amazon Ads की क्षमता को देखने के लिए उत्सुक है. साथ ही, वे कैम्पेन की संख्या बढ़ाने पर भी विचार कर रहे हैं, क्योंकि वे अगले साल के लिए मार्केटिंग बजट की तैयारी पर काम कर रहे हैं.

जैसा उन्होंने कहा

“[स्पॉन्सर्ड ऐड] पर अमूमन कम खर्च किया जाता है और मौजूद विकल्पों के लिहाज से यह कम लागत में बेहतरीन सुविधा है. स्पॉन्सर्ड ऐड में हिस्सा नहीं लेना ब्रैंड के लिए बड़े मौके गंवाने की तरह है. किसी भी कंपनी की सशुल्क मीडिया रणनीति के लिए, टार्गेटिंग क्षमता, कम लागत और परफ़ॉर्मेंस रिपोर्टिंग जैसी सुविधाओं की वजह से ज़रूरी है."

- एलन क्रांट्ज़लर, ब्रैंड प्रेसिडेंट, Baggallini